Common Blogging Mistakes In Hindi | Blogging Tips In Hindi [Part -1]

 हम आपको बताने वाले हैं ब्लॉगिंग की 10 ऐसी गलतियां जो कि आपके ब्लॉगिंग के करियर को सक्सेसफुल होने में रुकावट ला रही है. यह सारी गलतियां ऐसी है जो कि आपके वेबसाइट विजिटर्स को आपके वेबसाइट को नापसंद करने में मजबूर कर दे रही है, जो कि हम नहीं चाहते. हम आपको यह सुनिश्चित करवाना चाहते हैं कि जब भी कोई विजिटर आपके वेबसाइट में आए तो वह अपना कम से कम दिमाग का इस्तेमाल करें जिससे कि आप की वेबसाइट का सक्सेस बहुत गुना बढ़ जाएगा. 

आप जितना easy एक विजिटर के लिए बना देंगे आपके वेबसाइट में surf करना उतना ही आपकी वेबसाइट की सक्सेस बढ़ती रहेगी. किसी का समय और अपना दिमाग का इस्तेमाल करना कम किया जाए तो चाहे जो भी हो जाए उसको आप की वेबसाइट अच्छी लगेगी ही लगेगी. 


Common Blogging Mistakes In Hindi:




Mistake No.1 - Button's Color: 

आपके वेबसाइट में जो भी बटन होते हैं वही एक विजिटर को कुछ call-to-action करवाती है, अगर वह बटन ही कुछ इंटरेस्टिंग ना हो तो एक विजिटर क्यों उसे call-to-action करने में इस्तेमाल करेगा. आपके homepage में आपने देखा होगा कि "Read More" या फिर "Learn More" का बटन रहता है अगर वही बटन कुछ इंटरेस्टिंग ना हो कुछ आंख में ना आए तो विजिटर उसे मिस कर जाता है जिसमें कि आपकी ट्राफिक कम होने की आशंका रहती है. 

बहुत लोग अपनी वेबसाइट को खूबसूरत बनाने के लिए बटन और आपकी वेबसाइट की टीम को एक ही कलर में कर देते हैं, मतलब कि अगर आपकी वेबसाइट का थीम में कुछ ज्यादा ब्लू कलर आता है तो वह लोग अपने बटन को भी ब्लू कलर कर लेते हैं और यह भूल जाते हैं कि यह बटन थोड़ा हटके रहना चाहिए ताकि लोगों की आंख में आए और call-to-action हो पाए. 

काम वेबसाइटयह एक ऐसा बटन है जो कि आप चाहेंगे कि लोग आपके इस बटन को ज्यादा से ज्यादा क्लिक करें और लोगों की आंखों में यह बटन आसानी से दिखे, तो अगर यह बटन भी आपकी वेबसाइट की कलर में सेम होगा तो चांसेस ज्यादा होती है कि लोग इसको छोड़ दें या फिर ध्यान ही ना दें. तो इसीलिए याद रखेगा कि जब भी आपको ऐसा बटन डिजाइन करना है तो यह थोड़ा हटके रहना चाहिए जैसे कि आंख में आए और लोग इसका ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल कर पाए. 


Mistake No.2 - Too Many Call To Action: 

तो हम जैसे कि call-to-action की बात कर रहे थे उसी में कई सारे लोग एक बहुत बड़ी गलती यह कर लेते हैं की बहुत सारे call-to-action वाले बटन अपनी वेबसाइट में लगा देते हैं जिससे कि आपका विजिटर कंफ्यूज हो जाता है कि कौन सा बटन हम प्रेस करके कौन सा चीज करें. एक या दो बटन होना चलता है परंतु अगर तीन-चार बटन लगा दिया जाए तो बहुत ही कम चांसेस होती है कि आपका विजिटर उस में से कोई एक को क्लिक करेगा. 

अगर आपकी वेबसाइट को उतनी बटन की जरूरत है तो बेहतर यह होगा कि आप सबसे ज्यादा इंपोर्टेंट जिस को मानते हैं कि आप चाहते हैं कि वह बटन क्लिक किया जाए ज्यादा से ज्यादा उसी को आप एक बड़ी साइज में वहां लगा दें और बाकी तीन-चार जो रहेंगी उसको थोड़ी नीचे या फिर साइड में लगा दीजिएगा तो इससे जरूरत के अनुसार विजिटर उसको कॉल टो एक्शन कर पाएगा. 

हम आपको एक ही call-to-action की बटन लगाने को इसलिए कह रहे हैं क्योंकि हम चाहते हैं विजिटर कम से कम टाइम में जिस चीज के लिए आपकी वेबसाइट में आया है वह चीज कर पाए इससे आपकी वेबसाइट की इंगेजमेंट भी बढ़ेगी जिससे रैंकिंग भी बढ़ेगी. 


Mistake No.3 - Spacing: 

कभी-कभी कुछ वेबसाइट्स में हम यह देखते हैं कि या तो बहुत ही ज्यादा स्पेसिंग हो रखी होती है या फिर बहुत ही कम. अगर आपके पोस्ट के बीच में स्पेस ज्यादा हो जाए तो कुछ खाली खाली सा लगता है आपका वेबसाइट और कुछ उसी प्रकार अगर कुछ पैसे कम हो जाए तो बहुत ही भीड़-भाड़ सा लगता है जो कि दिखने में बिल्कुल ही अच्छा नहीं लगता. 

तो आप हमेशा यह ध्यान रखिएगा कि आपकी स्पेसिंग हर जगह बिल्कुल अच्छी प्रकार से हुई है कहीं कुछ ज्यादा या कहीं कुछ कम नहीं हुई इससे आपकी वेबसाइट को एक अच्छा लुक मिलेगा और उसके साथ साथ अगर किसी को कुछ पढ़ना है तो उसको आसानी से वह पढ़ पाएगा. 


Mistake No.4 - Poor Writing: 

अगर आपकी वेबसाइट की लिखावट अच्छी ना हो तो यह बहुत टाइम ले जाता है किसी विजिटर को वह चीज ढूंढने में जो कि वह ढूंढने आया है, कुछ लोग अपने वेबसाइट्स की वर्ड काउंट बढ़ाने में यह भूल जाते हैं कि अगर कोई कुछ यहां ढूंढने आया है तो वहां कुछ उसको पाने में बहुत ही समय लग जाएगा जो कि दिखने में और पढ़ने में दोनों में ही खराब होता है. 

आप का टारगेट यह रहना चाहिए कि आप कम से कम समय में आपके विजिटर को उसकी question का answer देने में कामयाब हो जाएं और उसके मन में वह सवाल पूछने से पहले ही उसको जवाब मिल जाना चाहिए. अगर आपके पास किसी चीज की 50% नॉलेज है तो आप उसको कुछ उस प्रकार लिखेगा जिससे कि वह 5% पढ़ के ही सामने वाले को समझ में आ जाए. 


Mistake No.5 - Tracking & Leading: 

यह एक ऐसा मिस्टेक है जो कि लोग ज्यादा ध्यान नहीं देते और नजरअंदाज कर जाते हैं. सबसे पहले अगर आपको पता ना हो Tracking & Leading क्या होता है तो वह मैं आपको बता दूं, ट्रेकिंग वह होती है जो कि आपके दोनों words के बीच में गैप कितना है वह देखा जाता है और लीडिंग वह होती है कि आपके दोस्त सेंटेंस के ऊपर और नीचे रहने के बीच में कितना गैप है. आप इसको line-height भी बोल सकते हैं. अगर आपका यह ठीक रहेगा तो यूजर को पढ़ने में बहुत easy होगा और आसानी से उसको उसका इंफॉर्मेशन मिल जाएगा. यह न केवल दिखने में अच्छा करवा देता है आपकी साइट को बल्कि यह यूजर एक्सपीरियंस को भी अच्छा करवाता है. 


Conclusion: 

आशा करता हूं आपको हमारी यह टॉप फाइव ब्लॉगिंग मिस्टेक का लिस्ट अच्छा लगा होगा और इनमें से एक ना एक आपने मिस्टेक जरूर किया होगा जिससे कि आपको एक सक्सेसफुल ब्लॉगर होने में समय लग रहा है. अगर आपने इनमें से कोई भी मिस्टेक नहीं किया है तो बधाई हो आपकी सक्सेस इस ब्लॉकिंग जर्नी में बहुत जल्द आने वाली है. कुछ इसी प्रकार हम आपके लिए ब्लॉगिंग के टिप्स और ट्रिक्स लाते रहते हैं हमारे इस वेबसाइट को आप जरूर एक बार देख लीजिएगा आपको बहुत सारी इंटरेस्टिंग इंफॉर्मेशन ब्लॉगिंग में मिल जाएगी. इस ब्लॉगिंग मिस्टेक में हम पाठ डूबी लेकर आने वाले हैं और अगर वह आ चुका होगा तो आपको इसका लिंक यहां नीचे मिल जाएगा. तब तक के लिए अलविदा!

Post a Comment

0 Comments